धोखेबाज़ बोलकर श्राप तक दे दिया था अनुपम खेर ने इस डायरेक्टर को,फिर उसी की फिल्म से बनाई पहचान

Loading...

धोखेबाज़ बोलकर श्राप तक दे दिया था अनुपम खेर ने इस डायरेक्टर को,फिर उसी की फिल्म से बनाई पहचान

अनुपम खेर इंडस्ट्री के इतने बेहतरीन अदाकार हैं कि कई बार तो उनकी अदाकारी के सामने फिल्म का हीरो भी कुछ नहीं लगता हैं फिल्मो में कॉमेडी से लेकर ट्रेजेडी और विलन तक के रोल से रुपहले पर्दे पर अपनी पहचान बनाने वाले अनुपम खेर ने बॉलीवुड में कदम रखते के साथ ही अपनी एक विशिष्ट पहचान बना ली थी।

अनुपम खेर ने बॉलीवुड में फिल्म सारांश से शुरुआत की थी और केवल 28 साल की उम्र में ही इन्होने इस फिल्म में 62 साल के बुजुर्ग की भूमिका कर समीक्षकों तक को हैरान कर दिया था लेकिन हाल ही ,में अनुपम खेर ने बताया कि किस मुश्किल दौर से होकर मुझे ये रोल मिला था। अनुपम की ये बात आपके चेहरे पर हंसी ले आएगी लेकिन उस वक़्त जब उनके साथ ये सब हो रहा था अनुपम की हालत ख़राब हो गयी थी

Loading...

दरअसल उस दौर के बारे में बात करते हुए अनुपम ने बताया कि सब कुछ फाइनल हो चूका था लेकिन फिर फिल्म के डायरेक्टर महेश भट्ट ने मुझे फिल्म से निकाल दिया मैं कुछ समझ ही नहीं पाया मुझे कुछ नहीं समझ आ रहा था कि मैं क्या करूँ। ऐसे में मैंने अपना सारा सामान बाँधा टैक्सी में डाला और महेश भट्ट के घर चला गया। मैं उन्हें बताने गया था की मैं मुंबई छोड़कर हमेशा के लिए घर जा रहा हूँ।

मैं जब उनके घर पहुंचा तो मैंने उनसे कहा आप एक धोखे बाज़ आदमी हैं,आप सच्चाई पर एक फिल्म बना रहे हैं लेकिन आप खुद सच्चाई से कोसों दूर हैं। आप एक घटिया इंसान हैं,मैं ब्राह्मण हूँ और आपको श्राप देता हूँ। मैं गुस्से में था और रो भी रहा था।

अनुपम ने बताया ये सुनने के बाद उन्होंने मुझे अपनी फिल्म में रोल दिया। बता दे ये फिल्म अनुपम की ज़िन्दगी की सबसे बड़ी और बेहतरीन फिल्म बनी। हाल की बात करे तो बहुत जल्द अनुपम खेर द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर में नज़र आएँगे। ये फिल्म मनमोहन सिंह पर बनी हैं

Loading...